पुरखौती मुक्तांगन नया रायपुर

0

purkhauti-1

इस संग्रहालय को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पर्यटन मंत्रालय के तहत संस्कृति विभाग द्वारा विकसित किया जा रहा है। आदिवासियों की आबादी, कलाकृतियों, लोक नृत्य, भोजन की आदतें आदि का चित्रण किया गया हैं। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पर्यटन मंत्रालय के अंतर्गत संस्कृति विभाग द्वारा विकसित पुरखौती मुक्तांगन संग्रहालय। यह प्राकृतिक संसाधनों, संस्कृति, उद्योगों आदि की प्रतिकृति पर्यटकों के आकर्षण के केंद्र का प्रदर्शन करता है , जो 18 हेक्टेयर में फैला हुआ है जिसमें विजन 2020 की भी झलक मिलती है। छत्तीसगढ़ राज्य की सांस्कृतिक विरासत के प्रमुख केन्द्र पुरखौती मुक्तांगन लगभग 200 एकड़ परिक्षेत्र में फैला पुरखौती मुक्तांगन शैक्षणिक केन्द्र होगा जिसमें छत्तीसगढ़ की जनजातीय संस्कृति, कलाशिल्प, प्राकृतिक संरचना और भौगोलिक परिदृश्य, पर्यावरण और जैव विविधता को प्रदर्शित करने हेतु विकास कार्य संपन्न कराया जाना है जिसका लोकार्पण महामहिम राष्ट्रपति के द्वारा किया गया। महामहिम द्वारा पुरखौती मुक्तांगन की इस अवधारणा की सराहना की गई है। राज्य की संस्कृति, परंपरा, पुरातत्व, पर्यावरण और जीव-सृष्टि की सन्निधि में विकास की कल्पना को साकार करने हेतु पुरखौती मुक्तांगन का निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ और राज्य के पारंपरिक शिल्पियों के द्वारा इसे सांस्कृतिक धरोहर के रूप में आकार प्रदान करने का संकल्प जीवन्त हुआ।
unnamed




Leave A Reply

*